Bhilwara Online Lokjeevan News Lokwani News Online Games Quick Tour
Interesting Things [ दिलचस्प बातें ]
क्या आप जानते हैं मरने के बाद लोग भूत क्यों बनते हैं?
क्या आप जानते हैं मरने के बाद लोग भूत क्यों बनते हैं?
क्या आप जानते हैं कि मरने के बाद लोग भूत या प्रेतात्मा क्यों बनते हैं? लगभग सभी संस्कृतियाँ भूतों में विश्वास करती हैं| इसके अनेक कारण हैं, लेकिन हम बात करते हैं भारत में भूतों के बारे में सबसे ज्यादा मानी जानी वाली मान्यताओं के बारे में|

हम सबको भूतों से डर लगता है| यह सोच ही कंपा देती है| जब हमें पता चलता है कि मरने के बाद हम सब भूत बनेंगे तो यह सोच ही कितना डरावना लगता है| मरने के बाद हर कोई स्वर्ग जाना चाहता है| यही कारण है कि हम धर्म के अनुसार बताए गए सिद्धांतों का पालन करते हैं|

लगभग हर धर्म में अच्छे जीवन के लिए कुछ चीजें बताई गई हैं जिससे व्यक्ति प्रेतात्मा बनने की सोच को हटाकर ठीक प्रकार जिंदगी जी पाये| जानना चाहते हैं कि मरने के बाद भूत क्यों बनते हैं? आइये जानते हैं ...

मरने के बाद भूत बनने के कारण
इच्छाओं का पूरा नहीं होना
मरने के बाद भूत बनने का सबसे पहला और मुख्य कारण है इच्छाओं का पूरा नहीं होना| इस बात में लगभग सभी संस्कृतियाँ विश्वास करती हैं|

आध्यात्मिक मान्यताओं का अभाव
कुछ संस्कृतियाँ मानती हैं कि मरने के बाद व्यक्ति भूत बनता है, यदि जीते जी उसने आध्यात्मिक मान्यताओं का अनुसरण नहीं किया है| यही कारण है कि बहुत सी परम्पराओं में जीवन के दौरान सकारात्मक आध्यात्मिक सिद्धांतों का पालन करने पर जोर दिया गया है| इसलिए हमारे बड़े लोग हमें आध्यात्मिक पथ पर आगे बढ़ने और मोक्ष प्राप्त करने के लिए प्रेरित करते हैं| हर धर्म में कुछ आध्यात्मिक नियमहैं जिनका पालन कर और संतुलित जीवन जीकर व्यक्ति मोक्ष की प्राप्ति कर सकता है| शास्त्र मानते हैं कि एक प्रबुद्ध और मोक्ष प्राप्त करने वाला व्यक्ति जीवन और मृत्यु से छुटकारा पाता है| इस प्रकार का व्यक्ति मरने के बाद भूत या प्रेतात्मा नहीं बनता है|

लालच और लगाव
जो व्यक्ति ज्यादा लालची होता है या सांसारिक चीजों से ज्यादा लगाव रखता है वह मरने के बाद जरूर भूत बनता है, यह कुछ विचारधारों का मानना है| पैसे के प्रति ज्यादा लगाव भी व्यक्ति के मरने के बाद भूत बनने का एक कारण है| अधूरी इच्छाओं की भांति यह लगाव व्यक्ति को सांसारिक मोह-माया से बांधे रखता है और यही कारण है कि मरने के बाद भी उसकी आत्मा पृथ्वी पर भटकती रहती है| शायद अब आप जान गए हैं कि मरने के बाद भूत बनने का क्या कारण है? यही कारण है कि सभी आध्यात्मिक परम्पराओं में व्यक्ति को लालच और अभिलाषाओं से दूर रहने के लिए कहा गया है| अनेक दार्शनिकों ने भी लिखा है कि इच्छा ही सभी दुखों का कारण है|

नकारात्मक सोचने का नजरिया
क्या हम मरने के बाद भूत बनेंगे? जो लोग नकारात्मक सोचते हैं वे अपने दिमाग में जहर भर लेते हैं| और इस प्रकार का जहरीला दिमाग गुस्सा, दुःख और अवसाद जैसी नकारात्मक भावनाओं का कारण बनता है| जब एक व्यक्ति अपने जीवन को नकारात्मकता से भर लेता है तो मरने के बाद प्रेतात्मा बनने का ज्यादा डर रहता है| इसी कारण पुराने लोग जीवन में सकारात्मक सोच रखने के लिए कहते हैं| अपने दिमाग को और आस-पास के वातावरण को सकारात्मक रखना मरने के बाद भी फायदेमंद है| सकारात्मक ऊर्जा, शरीर और आत्मा दोनों के लिए फायदेमंद है|

अहंकार की भावना का ज्यादा होना
अहंकार की भावना ज्यादा रखने वाला व्यक्ति मरने के बाद निश्चित ही भूत बनता है क्यों कि पृथ्वी पर उसकी कुछ चीजें अधूरी रह जाती हैं| शारीरिक रूप से शांति रखने पर ही आत्मा शांत रहेगी और एक अलग प्रभुता को प्राप्त करेगी| यह भी एक कारण है जिससे लोग प्रेतात्मा बनते हैं|
होली पर बनाइये स्‍वादिष्‍ट केसरी भात
..... होली पर बनाइये स्‍वादिष्‍ट केसरी भात .....
होली पर बनाइये स्‍वादिष्‍ट केसरी भात
लड़कियों के ..... होली पर बनाइये स्‍वादिष्‍ट केसरी भात लड़कियों के .....
होली पर ऐसे बनाइये भांग की ठंडाई
..... होली पर ऐसे बनाइये भांग की ठंडाई .....
मैगजीन कवर पर हॉट बॉलीवुड सेलेब्रिटीज..... मैगजीन कवर पर हॉट बॉलीवुड सेलेब्रिटीज.....
सेल फोन के रेडिएशन से बचने के तरीके 
..... सेल फोन के रेडिएशन से बचने के तरीके .....
वजन कम करने के लिये खाएं ये टेस्‍टी लो कैलोरी आहार..... वजन कम करने के लिये खाएं ये टेस्‍टी लो कैलोरी आहार.....
जानिए कैसे आएगी सुहानी नींद..... जानिए कैसे आएगी सुहानी नींद.....
किस्मत चमकाए, फेंगशुई के उपाय..... किस्मत चमकाए, फेंगशुई के उपाय.....
Advertisement Domain Registration E-Commerce Bulk-Email Web Hosting    S.E.O. Bulk SMS Software Development Web   Development Web Design